भूगोल और आप

आने वाले 200 वर्षों में गाय होगी पृथ्वी की सबसे बड़ी स्तनपायी!

यदि बड़े स्तनपायी जंतुओं की विलुप्ति मौजूदा दर से जारी रहती है तो आने वाले 200 वर्षों में 900 किलोग्राम की गाय, पृथ्वी पर सबसे बड़ी स्तनपायी होगी। जर्नल साइंस में प्रकाशित शोध आलेख के अनुसार आखेट, अवैध शिकार, मांसाहारी भोजन इत्यादि कारणों से विशालकाय स्तनपायी जानवर पृथ्वी पर से धीरे-धीरे विलुप्त हो रहे हैं। इस शोध के मुताबिक स्तनपायी जंतुओं का आकार व विलुप्ति में गहरा संबंध है। अर्थात...

भूगोल और आप

आईएमडी का मानसून पूर्वानुमान और दीर्घावधिक औसत

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने दक्षिण-पश्चिम मानसून ( जून-सितंबर 2018) के लिए पहला पूर्वानुमान जारी किया है। आईएमडी के मुताबिक आलोच्य अवधि में भारत में मानसून के दीर्घावधिक औसत (Long Period Average-LPA) के 97 प्रतिशत रहने का पूर्वानुमान है जिसमें 5 प्रतिशत का अंतर हो सकता है। इसका मतलब यह है कि मानसून सामान्य रहेगा। क्या होता है दीर्घावधिक औसतः दीर्घावधिक औसत यानी एलपीए पूरे देश में 1951 से 2000 के बीच...

भूगोल और आप

हीट वेव से ग्रेट बैरियर रीफ (Great Barrier Reef) को भारी नुकसान

नेचर पत्रिका में 18 अप्रैल, 2018 को प्रकाशित एक अध्ययन रिपोर्ट के अनुसार वर्ष 2016 में आस्ट्रेलिया की हीट वेव से ग्रेट बैरियर रीफ (Great Barrier Reef) को भारी नुकसान पहुंचा है। इस रिपोर्ट के अनुसार अप्रत्याशित स्तर पर प्रवाल विरंजन या कोरल ब्लीचिंग (coral bleaching) के कारण, जो कि हीट वेव का परिणाम था, सामूहिक रुप से कोरल मृत पाये गये। इससे ग्रेट बैरियर रीफ (Great Barrier Reef ) में पायी जाने वाली 3,863 वैयक्तिक भित्तियों या रीफ...

भूगोल और आप

क्या अफ्रीका दो हिस्सों में विभाजित हो रहा है?

केन्या की भ्रंश घाटी (रिफ्ट वैली) में भारी वर्षा के पश्चात आयी दरार से कुछ लोगों ने अनुमान लगाना आरंभ कर दिया है कि अफ्रीका महाद्वीप, जो मानव विकास के इतिहास का साक्षी रहा है, दो हिस्सों में विभाजित हो रहा है। दरअसल जिस क्षेत्र में दरार देखी गयी है वह ग्रेट रिफ्ट वैली का हिस्सा है। यह दरार पूर्वी अफ्रीकी रिफ्ट का हिस्सा है। हालांकि जो साक्ष्य उपलब्ध हैं उससे यह प्रतीत नहीं होता है कि रिफ्ट...

भूगोल और आप

तापमान में वृद्धि से बढ़ेगी हर प्रकार की समस्या

आज हर व्यक्ति पर्यावरण की बात करता है। प्रदूषण से बचाव के उपाय सोचता है। व्यक्ति स्वच्छ और प्रदूषण-मुक्त पर्यावरण में रहने के अधिकारों के प्रति सजग होने लगा है और अपने दायित्वों को समझने लगा है। वर्तमान में विश्व ग्लोबल वॉर्मिंग के सवालों से जूझ रहा है इस सवाल का जवाब जानने के लिए विश्व के अनेक देशों में वैज्ञानिकों द्वारा प्रयोग और खोजें हुई हैं। उनके अनुसार अगर प्रदूषण फैलने की...

भूगोल और आप

जीवन के लिए एक अनिवार्य तत्व है नाइट्रोजन

नाइट्रोजन एक अनिवार्य तत्व है जो प्रत्येक जीव के पर्याप्त विकास एवं कार्य के लिए जरूरी है। नाइट्रोजन सभी एमीनों अम्लों में पाया जाता है, प्रोटीनों में शामिल रहता है तथा क्षारों के रूप में मौजूद रहता है, जिनसे डीऑक्सीरिबोन्युक्लिक अम्ल (डीएनए) और राबोन्युक्लिक अम्ल (आरएनए) का निर्माण होता है। पादपों में नाइट्रोजन की अधिकांश मात्रा पर्णहरित अणुओं के उपयोग में आती है जो प्रकाशसंश्लेषण...

भूगोल और आप

भारत का 15 प्रतिशत क्षेत्र भूस्खलन प्रभावित है

भूस्खलन एक गुरूत्व प्रेरित भूगर्भीय घटना है, जो मुख्यतः पहाड़ी भूभागों से जुड़ा हुआ है। हालांकि भूस्खलन की घटनाएं उन क्षेत्रों में भी हो सकती हैं, जहां राजमार्ग, भवनों और खुले मुँह वाले खदानों के लिए सतह की खुदाई जैसी गतिविधियों को अंजाम दिया जाता है। उथला भूस्खलन उन क्षेत्रों में हो सकता है, जहां निचले क्षेत्र में सरंध्र मृदाओं या विवर्त्त पड़ चुके चट्टानों की चोटी पर उच्च सरंध्र मृदाओं...

भूगोल और आप

भूजल के स्तर में गिरावट रोकने के नियंत्रणकारी उपाय जरूरी

भूजल के अंधाधुंध निष्कासन से बहुत सी समस्याएं उभरकर आई हैं जैसे पंजाब के दक्षिण पश्चिम के भागों में जलस्तर में चढ़ाव के कारण जलभराव और खारापन की समस्या उत्पन्न हो गई है। इस क्षेत्र में भूजल का अत्यधिक निष्कासन किया जा रहा है। जलभराव ऑक्सीजन स्तर को कम करता है तथ जड़ों के आस पास कार्बन डायऑक्साइड के जमाव के कारण फसल की उत्पादकता कम होती जाती है। मिट्टी के तल में खारे तत्वों की जमावट के...

भूगोल और आप

एशियाई शेर की मौत की घटनाओं में वृद्धि

एशियाई शेर केवल भारत में गुजरात राज्य के जंगल में ही पाए जाते हैं। गुजरात राज्य सरकार द्वारा दी गई सूचना के अनुसार, उनके राज्य में मिलने वाले एशियाई शेर की प्रजाति के मृत्युदर में वृद्धि हुई है। एशियाई शेर की प्रजाति के मृत्युदर में वृद्धि प्राकृतिक व अप्राकृतिक, दोनों कारणों से हुई है। प्राकृतिक कारण शेरों के बीच लड़ाई, बीमारी और चोटों से दम तोड़ने, शावकों की मृत्यु, वृद्धावस्था आदि...

भूगोल और आप

कॉफी उत्पादन में विशिष्ट पहचान अराकू घाटी

भारत सरकार कॉफी बोर्ड ऑफ इंडिया के जरिये ‘एकीकृत कॉफी विकास परियोजना’ का क्रियान्वयन कर रही है जिसके तहत कॉफी उत्पादन को बढ़ावा दिया जा रहा है। इस योजना में पुनर्रोपण एवं विस्तार, जल संचयन एवं सिंचाई बुनियादी ढांचे का निर्माण और कॉफी एस्टेट के परिचालन के मशीनीकरण के लिए वित्तीय सहायता प्रदान करना शामिल है। इसके अलावा क्षमता निर्माण कार्यक्रमों के आयोजन और संबंधित क्षेत्रों में...