भूगोल और आप |

वर्ष 1972 के पश्चात मानव की प्रथम चंद्रमा यात्रा

अमेरिका की निजी अंतरिक्ष परिवहन कंपनी एलन मस्क की स्पेस एक्स’ ने चंद्रमा पर जाने वाले प्रथम निजी यात्री के नाम की घोषणा की है।  इस प्रस्तावित निजी यात्री का नाम है युसाकु मेजावा जो कि जापानी ऑनलाइन फैशन कंपनी जोजो के मालिक हैं। 42 वर्षीय मेजावा वर्ष 2023 में स्पेस एक्स के बिग फाल्कन रॉकेट (बीएफआर) से चंद्रमा की यात्रा करेंगे। वर्ष 1972 में अमेरिका के अपोलो-17 मिशन के पश्चात चंद्रमा की यात्रा करने वाले मेजावा पहले यात्री होंगे। उद्योगपति होने के साथ-साथ वे कला के भी संरक्षक हैं। इसलिए मेजावा ने इस मिशन की सभी सीटें बुक कर ली हैं और अपने साथ छह से आठ कलाकारों को चंद्रमा पर ले जाएंगे।

उल्लेखनीय है कि अभी तक मानव युक्त 6 चंद्रमा मिशन से 24 मानव चंद्रमा की यात्रा कर चुके हैं और सभी अमेरिकी हैं। ये सभी नासा के अपोलो मिशन के हिस्सा रहे हैं। अपोलो प्रोग्राम 1961 से 1972

  1. चंद्रमा पर पहला मानव मिशन71969 (अपोलो-11): 20 जुलाई, 1969 को अपोलो-11 चंद्रमा के धरातल को स्पर्श करने वाला पहला मानव युक्त मिशन बना। यह यान चंद्रमा के ‘मेयर ट्रांक्विलिटैटिस’ पर उतरा था जिसे सी ऑफ टांक्विलिटी के नाम से भी जाना जाता है। नील आर्मस्ट्रॉन्ग एवं एडविन ऑल्ड्रिन चंद्रमा पर कदम रखने वाले पहले व्यक्ति बनें। इनमें नील आर्मस्ट्रॉन्ग ने पहले कदम रखा था।
  2. अपोलो-12 (1969): इस मिशन के दो अंतरिक्षयात्रियों चार्ल्स कॉनरैड व एलन बीन 9 नवंबर, 1969 को चंद्रमा के धरातल पर कदम रखा। ये लोग सर्वेयर क्रेटर के नजदीक ओशनस प्रोसेलैरम पर लैंड किए थे।
  3. अपोलो-14 (1971): चंद्रमा पर यह मानव युक्त तीसरा मिशन था। इस मिशन के दो यात्री थे; एलन शेफर्ड एवं एडगर मिशेल जो 5 फरवरी, 1971 को चंद्रमा पर उतरे थे।
  4. अपोलो-15 (1971): चंद्रमा पर 30 जुलाई, 1971 को उतरने वाला यह चौथा मानव युक्त मिशन था। इसके तीन यात्री एल्फ्रेड वोर्डेन, डेविड स्कॉट एवं जेम्स इरविन थे। पहली बार लुनर रोवर का इस्तेमाल किया गया था।
  5. अपोलो-16 (1972): मानव युक्त पांचवां चंद्र मिशन 21 अप्रैल, 1972 को कदम रखा। जॉन यंग व चार्ल्स ड्युक इसके दो यात्री थे। इन दोनों यात्रियों ने चंद्रमा पर रोवर की सहायता से 16.7 मील की यात्रा किया।
  6. अपोलो-17 (1972): अब तक का यह अंतिम मानव युक्त चंद्र मिशन था। इस यान के साथ गए यूजेन कर्नेन एवं हैरिसन श्मिट 11 दिसंबर, 1972 को चंद्रमा पर कदम रखा। चंद्रमा की यात्रा करने वाले हैरिसन श्मिट पहले वैज्ञानिक थे।

Post a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.