भूगोल और आप |

पर्यावरण की कितनी हितैषी है पवन ऊर्जा।

प्रायः पवन ऊर्जा का गुणगान हरित ऊर्जा के रूप  में किया जाता है। तथापि, पवन ऊर्जा फार्मों के इससे कही दूरगामी  पर्यावर्णिक एवं समाजिक परिणाम हो सकते हैं। कच्छ (गुजरात) के नलिया नामक एक छोटे से कस्बे से 700 वर्ष पुराने गाँव जखाऊ और बुडिया की ओर जाते समय हमें अरब सागर और क्षितिज से मिलती हुई स्क्रबलैंड एवं चरागाहों का एक मिश्रित मनोरम दृश्य दिखाई पड़ता है। इस विस्तृत भूदृश्य में, जहाँ तक हम देख पाते हो, हवा में...

To purchase this article, kindly sign in

Post a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.