जैव विविधता

जैव विविधता हेतु जरूरी है समुद्री पर्यावरण की रक्षा

25.00

Description

वर्ष 2004 में जैविक विविधिता संबंधी अभिसमय (सीबीडी) पक्षकार सम्मेलन की सातवीं बैठक में इस बात पर सहमति कायम हुई कि समुद्री और तटवर्ती संरक्षित क्षेत्रों को एक व्यापक समुद्री और तटवर्ती प्रबंधन कार्यढांचा के रूप में कार्यान्वित किया जाना समुद्री और तटवर्ती जैव विविधता तथा संसाधनों के संरक्षण और संपोषित उपयोग के लिए अनिवार्य साधनों में से एक है। समुद्री संरक्षित क्षेत्र (एमपीएज) जलीय जैव विविधता संरक्षण और परिरक्षण; अधिवास संरक्षण; संकटग्रस्त प्रजातियों के संरक्षण;  बहुपयोगी प्रबंधन; संसाधनों और जैव विविधता के संपोषित निष्कर्षनीय उपयोग; सांस्कृतिक-पारिस्थितिकीय/ समाजिक संरक्षा; प्रबंधन संघर्ष, आर्थिक लाभ बढ़ाने और जीवन की गुणवत्ता में सुधार करने और ‘पारिस्थितिकी प्रणाली दृष्टिकोण’ को लागू करने तथा संसाधन संरक्षण और प्रबंधन में पूर्व सतर्कता दृष्टिकोण को अपनाने के साधन हैं।

Reviews

There are no reviews yet.

Only logged in customers who have purchased this product may leave a review.