मानवीय गतिविधियों के कारण पृथ्वी की जैव विविधता तेजी से घटती जा रही है। पृथ्वी की अनेक पशु व पाद्प प्रजातियां विलुप्त हो चुकी हैं।

जरुरी है घटती जैव विविधता को बचाना

25.00

Description

अनुमान के अनुसार रोगजनक जीवों के 95 प्रतिशत का नियंत्रण जैवनाशी जन्तुओं द्वारा किया जाता है। इन जैवनाशी जीवों के बारे में जानकारी न होने के कारण मनुष्य इन्हें अनजाने में समाप्त कर सकता है। जिसके फलस्वरूप बिमारियों का विस्तार एवं जैव विविधता की भारी क्षति संभव है। अनेक जनजातियों  तथा संस्कृतियों के लिए प्रकृति की सुरक्षा अत्यधिक धार्मिक महत्व रखती है। इन परम्पराओं का प्रयोग जैव विविधता के संरक्षण हेतु किया जाता है।

Reviews

There are no reviews yet.

Only logged in customers who have purchased this product may leave a review.